Bhairav chalisa | श्री भैरव चालीसा का पाठ एवं इसके अद्भुत लाभ

दोस्तों आप सभी का हमारे blog पर स्वागत है। दोस्तों आज के इस महत्वपूर्ण article के जरिये हम आपको भैरव चालीसा के बारे में बताएंगे। दोस्तों भैरव जी को खुश करने के लिए भैरव चालीसा का पाठ करना अति आवश्यक है। दोस्तों लेकिन मैं जानता हूँ की आप में से ऐसे बहुत से लोग होंगे जो Bhairav Chalisa के lyrics को किसी कारणवश भूल गए होंगे।

दोस्तों आज के इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में सभी कोई एक दूसरे से ऊपर उठने के चक्कर में ढेरो प्रयत्न किये जा रहा है। दोस्तों आज के इस article के जरिये हम आपको श्री भैरव जी के lyrics के साथ साथ इससे होने वाले फायदों के बारे में भी बताएंगे। दोस्तों मैं आपसे विनती करता हु की आप इस article को पूरा शुरू से लेकर अंत तक पढ़े एवं इससे अपने दोस्तों के साथ अवस्य share करे।

श्री भैरव चालीसा 

श्री गणपति गुरु गौरि पद प्रेम सहित धरि माथ ।
चालीसा वन्दन करौं श्री शिव भैरवनाथ ॥

श्री भैरव सङ्कट हरण मङ्गल करण कृपाल ।
श्याम वरण विकराल वपु लोचन लाल विशाल ॥

जय जय श्री काली के लाला । जयति जयति काशी-कुतवाला ॥

जयति बटुक-भैरव भय हारी । जयति काल-भैरव बलकारी ॥

जयति नाथ-भैरव विख्याता । जयति सर्व-भैरव सुखदाता ॥

भैरव रूप कियो शिव धारण । भव के भार उतारण कारण ॥

भैरव रव सुनि ह्वै भय दूरी । सब विधि होय कामना पूरी ॥

शेष महेश आदि गुण गायो । काशी-कोतवाल कहलायो ॥

जटा जूट शिर चन्द्र विराजत । बाला मुकुट बिजायठ साजत ॥

कटि करधनी घूँघरू बाजत । दर्शन करत सकल भय भाजत ॥

जीवन दान दास को दीन्ह्यो । कीन्ह्यो कृपा नाथ तब चीन्ह्यो ॥

वसि रसना बनि सारद-काली । दीन्ह्यो वर राख्यो मम लाली ॥

धन्य धन्य भैरव भय भञ्जन । जय मनरञ्जन खल दल भञ्जन ॥

कर त्रिशूल डमरू शुचि कोड़ा । कृपा कटाक्श सुयश नहिं थोडा ॥

जो भैरव निर्भय गुण गावत । अष्टसिद्धि नव निधि फल पावत ॥

रूप विशाल कठिन दुख मोचन । क्रोध कराल लाल दुहुँ लोचन ॥

अगणित भूत प्रेत सङ्ग डोलत । बं बं बं शिव बं बं बोलत ॥

रुद्रकाय काली के लाला । महा कालहू के हो काला ॥

बटुक नाथ हो काल गँभीरा । श्वेत रक्त अरु श्याम शरीरा ॥

करत नीनहूँ रूप प्रकाशा । भरत सुभक्तन कहँ शुभ आशा ॥

रत्न जड़ित कञ्चन सिंहासन । व्याघ्र चर्म शुचि नर्म सु‍आनन ॥

तुमहि जा‍इ काशिहिं जन ध्यावहिं । विश्वनाथ कहँ दर्शन पावहिं ॥

जय प्रभु संहारक सुनन्द जय । जय उन्नत हर उमा नन्द जय ॥

भीम त्रिलोचन स्वान साथ जय । वैजनाथ श्री जगतनाथ जय ॥

महा भीम भीषण शरीर जय । रुद्र त्रयम्बक धीर वीर जय ॥

अश्वनाथ जय प्रेतनाथ जय । स्वानारुढ़ सयचन्द्र नाथ जय ॥

निमिष दिगम्बर चक्रनाथ जय । गहत अनाथन नाथ हाथ जय ॥

त्रेशलेश भूतेश चन्द्र जय । क्रोध वत्स अमरेश नन्द जय ॥

श्री वामन नकुलेश चण्ड जय । कृत्या‍ऊ कीरति प्रचण्ड जय ॥

रुद्र बटुक क्रोधेश कालधर । चक्र तुण्ड दश पाणिव्याल धर ॥

करि मद पान शम्भु गुणगावत । चौंसठ योगिन सङ्ग नचावत ॥

करत कृपा जन पर बहु ढङ्गा । काशी कोतवाल अड़बङ्गा ॥

देयँ काल भैरव जब सोटा । नसै पाप मोटा से मोटा ॥

जनकर निर्मल होय शरीरा । मिटै सकल सङ्कट भव पीरा ॥

श्री भैरव भूतोङ्के राजा । बाधा हरत करत शुभ काजा ॥

ऐलादी के दुःख निवारयो । सदा कृपाकरि काज सम्हारयो ॥

सुन्दर दास सहित अनुरागा । श्री दुर्वासा निकट प्रयागा ॥

श्री भैरव जी की जय लेख्यो । सकल कामना पूरण देख्यो ॥

दोहा

जय जय जय भैरव बटुक स्वामी सङ्कट टार ।
कृपा दास पर कीजि‍ए शङ्कर के अवतार ॥

Bhairav chalisa translation in English language

 

Shri Ganapathi Guru Gauri post love with righteousness.
Chalisa Vandan Karon Shree Shiva Bhairavnath

Shri Bhairav ​​Sakta Haran Mangal Karan Kripal.
Shyam Varan Vikral Vapu Lochan Lal Vishal॥

Jai Jai Shri Kali’s Lala. Jayati Jayati Kashi-Kutwala॥

Jayati Batuk-Bhairava lost fear. Jayati Kaal-Bhairav ​​Balakari

Jayati Nath-Bhairava Familiarity. Jayati Sarva-Bhairava Pleasure

Lord Shiva holds the form of Bhairav. Building load reasons

Bhairava Rav Suni is a fear distance. Wish all the ways

Sing the remaining Mahesh etc. qualities. Kashi-Kotwal called॥

Jata jute head Chandra Virajat. Bala Mukut Bijayath Sajat॥

Kati girdhi ghungru bajat Darshan karat gross phobia

Deenyo to Jeevan Daan Das Keenhyo kripa nath then chinhyo॥

Vasni rasna becomes sard-kali. Dinhoyo vara rakhyo mama lali॥

Blessed Bhairava Bhayan Bhajan. Jai Manranjan Khal Dal Bhanjan 4

Kar trishu damru shuchi koda. Kripa Kataksh Suyash Nahin

Which is Bhairava’s fearless virtue. Ashtasiddhi Nav Nidhi Fruit Receipt

Roop huge hard grief redemption. Krodh Karal Lal Duhun Lochan॥

Countless Ghost Phantom Song Dolat. Bam Bam Bam Shiva Bam Balaat

Lala of Rudrakaay Kali. Maha Kalahu Ke Ho Kala

Batuk Nath ho kaal gambhira White blood Aru Shyam Sharira 4

Karat Neenhu Roop Prakasha Bharat Subhaktan, good luck

Kanchan throne studded with gems. Vyghrash tham shuchi soft suanan॥

Kashi Jahn Dhyavahin Where is Viswanath darshan

Jai Prabhu exterminator Sunand Jai Jai Advanced Har Uma Nand Jai

Jai with Bhima Trilochan Swan. Vaijnath Shri Jagatnath Jai

Maha Bhima horrific body Jai. Rudra Trimbak Dheer Veer Jai 4

Ashwnath Jai Pratanath Jai. Swanaruddha Sai Chandra Nath Jai

Nimish Digambar Chakranath Jai. Gahat Anathan Nath Hath Jai

Trashlesh Bhutesh Chandra Jai. Krodh Watts Amresh Nand Jai

Shri Vaman Nakulesh Chand Jai Kritau Keerti Prachand Jai

Rudra Batuk Krodhesh Kaaldhar. Chakra Tund Das Panivyal Dhar

Kari mada paan shambhu virtuosity. Sixty four yogin sang nachwat

Doing grace will be very easy on the people. Kashi Kotwal Ambanga

Due time Bhairava when sleeping. Nasai Sin Thick to Thick

Jankar Nirmal Hoy Sharira. May the gross coin be alive

Sri Bhairava Bhootooke Raja. Obstacles do green good night

Ailadi’s miseries Sada kripakari kaj samharyo

Anuraga including Sundar Das. Sri Durvasa near Prayaga

Jai Lakhyo of Shri Bhairav ​​ji. See the complete wish

Doha

Jai Jai Jai Bhairav ​​Batuk Swami Sankat Tar.
Shreekar’s avatar on Kripa Das

Note – This is translated by Google Translate so there are chances that it may be wrong at some instances.

भैरव चालीसा के पाठ से होने वाले लाभ 

  • भैरव जी की कृपा हमेशा आपके और आपके परिवार पर बनी रहेगी।
  • हर परिस्थिति से सामना करने के लिए भैरव बाबा आपको ताकत प्रदान करेंगे।
  • वे हमेशा सही एवं सटीक मार्गदर्शन करेंगे।
  • अगर आप वाकई भैरव बाबा को खुश करना चाहते है तो आप इसका पाठ अवस्य करे।

दोस्तों मुझे पूरी उम्मीद है  की आप सभी लोगों को हमारा यह article जो की Bhairav Chalisa Lyrics के ऊपर लिखा गया है जरूर पसंद आया होगा। अगर आप सभी को हमारी यह मेहनत पसंद आयी है तो आप इसे अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों के साथ अवस्य share करे।

दोस्तों अगर आपको ऐसे ही content पढ़ने में दिलचस्पी है तो आप हमारे blog को push notifications के द्वारा जरूर subscribe करे। अगर आप हमे कोई सुझाव देना चाहते है तो आप comment के जरिये हमे बता सकते है।

इन्हे भी अवस्य पढ़े –

 

राम जी की आरती

शिव चालीसा 

गणेश चालीसा 

गणेश जी की आरती 

संतोषी माता की आरती 

शिव जी की आरती 

सरस्वती माता की आरती 

Yadav

Hi, guys, I am a student. I am fond of writing articles. I think that I am a knowledgeable person and can share my knowledge with you. This blog is a Hindi blog. So you will get informational knowledge in Hindi. I love to know more information about God. With the help of this blog, I will be sharing with the aarti, Chalisa, stuti. stotra and many more things related to mythology in Hindi language.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *